राममंदिर के भूमि पूजन में मोदी का कार्यक्रम होगा भव्य; जानें यहाँ

0
385
प्रियंका गांधी ने कोरोना आंकड़ों पर बोला योगी सरकार पर हमला, कहा- हास्‍यास्‍पद है सीएम योगी का बयान
प्रियंका गांधी ने कोरोना आंकड़ों पर बोला योगी सरकार पर हमला, कहा- हास्‍यास्‍पद है सीएम योगी का बयान

अयोध्या के रामजन्मभूमि में बनने वाले रामलला के भव्य मंदिर के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन होना है। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आने वाले हैं। इसके सारे कार्यक्रम तय हो चुके हैं। कोरोना का साया इस कार्यक्रम पर पड़ रहा है। इस कार्यक्रम को बेहद भव्य रूप दिया जाना था पर कोरोना के चलते ये संभव नहीं है। ऐसे में इस कार्यक्रम को भव्य और दिव्य बनाने के लिए अब सोशल मीडिया और लाइव प्रसारण की मदद की जाएगी।

कोरोना का आयोजन पर साया

रामलला के मंदिर के निर्माण को लेकर बने श्री रामजन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी अफसर रहे नृपेंद्र मिश्रा कर रहे हैं। माना जा रहा है इस मंदिर निर्माण में पीएम मोदी की भी व्यक्तिगत रुचि है। ट्रस्ट के अधिकारी बताते हैं कि इस साल 20 फरवरी को जब ट्रस्ट की पहली बैठक के सभी पदाधिकारियों ने पीएम से मुलाकात की थी तो उन्होंने सभी को बधाई देते हुए खुद ही भूमि पूजन में आने की इच्छा भी जताई थी। पहले तीस अप्रैल और अब इस काम के लिए 5 अगस्त की तिथि तय की गयी है पर कोरोना संकट का साया इस कार्यक्रम पर भी पड़ रहा है। पहले इस आयोजन में देश विदेश के प्रमुख हस्तियों को शामिल करने की योजना थी पर  अब ये संभव नहीं हो पा रहा है। लेकिन ट्रस्ट ने इस कार्यक्रम को कोरोना काल में भी यादगार बनाने के लिए अपनी तैयारी पूरी कर ली है।

कैसा होगा आयोजन

इस इवेंट को टेक्सास में आयोजित बहुचर्चित हाउडी मोदी की तर्ज पर किया जाना तय किया गया है। ट्रस्ट इस कार्यक्रम को मेगा इवेंट बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ने वाला है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से भूमि पूजन का देश भर में लाइव प्रसारण किया जाएगा। ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि इस आयोजन को पूरा देश देखेगा, ऐसी व्यवस्था की जा रही है।

पूरी अयोध्या में भी लोग देख सकेंगे कार्यक्रम

कोरोना संकट के चलते बेहद सीमित लोगों को ही इस कार्यक्रम में बुलाया जा रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर कोरोना से जुड़ी हर गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। फिर भी अयोध्या समेत पूरे देश में रामभक्त खुद कि इस कार्यक्रम में शामिल महसूस कर सकें इसके लिए बड़ी योजना बनी है।

देश भर में लाइव प्रसारण के साथ सोशल मीडिया पर भी इसका लाइव वेबकास्ट किया जाएगा। इसके साथ ही पूरी अयोध्या यानी अयोध्या-फैजाबाद के जुड़वा शहरों में दर्जनों स्थानों पर एलईडी टीवी लगाई जाएगी। इसके साथ ही सोशल मीडिया के जरिए कार्यक्रम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ा जाएगा। इस काम के लिए सोशल मीडिया पर प्रचार अभी से जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here