प्रियंका गांधी वाड्रा ने साधा योगी सरकार पर निशाना नो टेस्ट-नो कोरोना की नीति से नहीं चलेगा काम

0
162
प्रियंका गांधी का नया एक्शन प्लान, 10 लाख कैलेंडरों से यूपी में कांग्रेस होगी मजबूत 
प्रियंका गांधी का नया एक्शन प्लान, 10 लाख कैलेंडरों से यूपी में कांग्रेस होगी मजबूत 

उत्तर प्रदेश में कोरोना की भयावाह स्थिति से निपटने में जहां सरकार को एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है वहीं हर बीतते दिन के साथ विपक्ष के हमले भी तेज होते जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार पर एक बार फिर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने निशाना साधा है। उन्होंने योगी सरकार को चिट्ठी लिखकर कोरोना से लड़ाई में उनकी नीति की धज्जियां उड़ाई हैं। प्रियंका ने कोरना के मद्देनजर यूपी की स्थिति को विस्फोट बताया है और चिट्ठी में यूपी सरकार से सहयोग करने का आश्वासन भी दिया है।

क्या लिखा है चिट्ठी में

कांग्रेस की महासचिव और यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि कोरोना की आफत से महानगरों में कोरोना केस की बाढ़ आ गयी है। गांव भी अब इसकी चपेट में आने लगे हैं।

प्रियंका ने योगी सरकार की नीति को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि सरकार ने ने ‘नो टेस्ट = नो कोरोना’ को मंत्र मानकर लो टेस्टिंग की पॉलिसी अपना रखी है जो स्थिति को विस्फोटक बना रही है। प्रियंका ने क्वारेंटीन सेंटर और अस्पतालों की स्थिति पर निशाना साधा है और अपनी चिट्ठी में इनकी स्थिति को दयनीय बताया है। उन्होंने तो यहां तक लिया है कि इस दयनीय स्थिति की वजह से ही लोग टेस्ट कराने सामने ऩहीं आ रहे हैं ये सरकार की बड़ी विफलता है।

बेड की कमी को लेकर निशाना

प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपनी चिट्ठी में ये भी लिखा है कि योगी सरकार ने डेढ़ लाख बेड़ होने  का दावा किया था पर कोरोना संक्रमित की संख्या 20 हार हने पर ही अब बेड़ की उपलब्धता को लेकर मारामारी मच गयी है।

उन्होंने अपनी चिट्ठी में सलाह दी है कि यूपी सरकार मुंबई और दिल्ली की तर्ज पर अस्थाई अस्पताल बनवाए। साथ ही ये भी कहा की यूपी से पीएम हैं कई केंद्रीय मंत्री हैं ऐसे में बनारस, लखनऊ, आगरा आदि में अस्थाई अस्पताल क्यों नहीं खोले जा रहे हैं?

सिर्फ प्रचार को लेकर तंज

कांग्रेस महासचिव ने सरकार को आगाह किया है कि कोरना में स्थितियाँ गंभीर होती जा रही हैं। उन्होंने प्रचार और न्यूज मैनेज कर लड़ाई लड़ने पर तंज करते हुए अपनी चिट्ठी में लिखा है कि सिर्फ प्रचार और न्यूज मैनेज करके ये लड़ाई नहीं लड़ी जा सकती है।

पुरानी टीस के साथ प्रियंका ने की मदद की पेशकश

कांग्रेस महासचिव ने मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र में मजदूरों के लिए की उनकी बस व्यवस्था पर हुई राजनीति की टीस निकल कर बाहर आ गयी। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि योगी सरकार हर पार उनके सुझाव को राजनीति मानती है। यूपी के मजदूरों के लिए कांग्रेस की तरफ से बसें चलवाने के प्रयास के दौरान आपकी सरकार की प्रतिक्रिया से यह स्पष्ट प्रतीत हुआ था। इस पत्र में प्रियंका ने लिखा है कि मैं एक बार फिर से आपको विश्वास दिलाना चाहती हूँ कि उप्र की जनता के स्वास्थ्य और जीवन की रक्षा इस समय हमारी सबसे बड़ी भावना है। इसी भावना के तहत वो हर संभव कोशिश भी कर रही हैं और यूपी सरकार को पूरी सहायता देने के लिए तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here