लखनऊ: इंस्‍पेक्‍शन में नदारद मिले कर्मी तो चढ़ा डीएम का पारा, कहा- तुरंत की जाए तैनाती

0
लखनऊ: इंस्‍पेक्‍शन में नदारद मिले कर्मी तो चढ़ा डीएम का पारा, कहा- तुरंत की जाए तैनाती
लखनऊ: इंस्‍पेक्‍शन में नदारद मिले कर्मी तो चढ़ा डीएम का पारा, कहा- तुरंत की जाए तैनाती

लखनऊ। राजधानी में स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं को दुरुस्‍त करने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कमर कस ली है। इसी क्रम में सोमवार को डीएम अभिषेक प्रकाश ने कुर्सी रोड स्थित इंटीग्रल इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल सांइसेज एंड रिसर्च में बने कोविड केयर सेंटर का औचक निरीक्षण किया। वहां उन्‍होंने कोविड 19 के रोगियों को उपलब्‍ध कराई जा रही स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं का भौतिक सत्‍यापन किया। इस निरीक्षण के दौरान उन्‍हें अवगत कराया गया कि चिकित्सालय में ट्रायज एरिया (नान कोविड) की व्यवस्था है और होल्डिंग एरिया (कोविड) की व्यवस्था उपलब्ध नहीं है।

इस पर उन्‍होंने मौजूद चिकित्‍साधिकारियों को निर्देशित किया कि चिकित्सालय में तत्काल होल्डिंग एरिया की व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जाए, जहां पर किट्रिकल केस वाले मरीज को एम्बुलेंस से निकाल कर मरीज को होल्डिंग एरिया में ही स्टेबल किया जाए। इसके बाद चिकित्‍सकों ने डीएम अभिषेक प्रकाश को बताया कि चिकित्सालय में एम्बुलेंस से मरीज को 15 मिनट में ही बेड पर शिफ्ट कर दिया जाता है। डीजीएमई द्वारा अस्पताल को 5 चिकित्सक दिये गये थे, जिनमें से मात्र दो चिकित्‍सकों ने ही ज्‍वाइन किया है। इनमें डॉ पीवी कुमार और डॉ करमचंद ने ही ज्वाइन किया है। इस‍ पर डीएम अभिषेक प्रकाश ने निर्देशित किया कि तत्‍काल शेष तीन चिकित्‍सकों को भी ज्‍वाइन कराया जाए। कोविड केयर सेंटर के प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि हास्पिटल में क्रिटिकल केयर बेड की संख्या कुल 80 है, जिसमें से 68 बेड पर मरीज भर्ती है शेष 12 बेड रिक्त हैं।

इसके अलावा डीएम अभिषेक प्रकाश को चिकित्सकों ने अवगत कराया गया कि यहां एचडीयू के 13 बेड उपलब्ध हैं लेकिन मैनपावर की उपलब्धता न होने के कारण उनका संचालन रुका हुआ है। इस पर डीएम अभिषेक प्रकाश ने निर्देशित किया कि जल्‍द इन पदों पर नियुक्ति करके सभी बेड क्रियाशील किए जाएं।

डीएम अभिषेक प्रकाश ने जब चिकित्सकों से अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन सिलेंडर की उपलब्‍धता पर सवाल किया तो पता चला कि एचएफएनसी में दो घण्टे में एक जम्बो आक्सीजन सिलेण्डर की खपत होती है। प्रतिदिन 100 सिलेण्डरों की खपत होती है। इस पर डीएम ने कहा कि आक्सीजन सिलेण्डर की आपूर्ति 100 के स्थान पर 200 सिलेण्डर प्रतिदिन तक बढ़ाई जाए। जिससे इसकी कमी न हो पाए।

इसके बाद डीएम अभिषेक प्रकाश द्वारा सीसीटीवी के माध्यम से भी रोगियों को उपलब्ध कराए जा रहे उपचार की समीक्षा की गई। इस दौरान उन्‍होंने चिकित्सालय परिसर में पर्याप्त साफ-सफाई और सैनेटाइजेशन कार्य होते पाया। इस निरीक्षण के दौरान सीएमओ डॉ आरपी सिंह, डॉ सुधीर मेहरोत्रा (कर्नल), डॉ इदरीस, डॉ ए एच रिज़वी, डॉ फरीद मोहम्मद सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

डीएम अभिषेक प्रकाश ने इस दौरान अस्‍पताल के ड्यूटी चार्ट का परीक्षण किया। इस परीक्षण के दौरान डॉ अनुज रस्तोगी से दूरभाष द्वारा वार्ता की गई, जिनके द्वारा बताया गया एचडीयू में ए व बी वार्ड बनाये गये हैं। एचडीयू वार्ड में कुल 51 मरीज भर्ती हैं। वेंटीलेटर पर कोई भी मरीज नहीं है तथा बाई पेप के 2 बेड हैं, जिस पर मरीज भर्ती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here