पुलिसकर्मी ही निकले लुटेरे, खुलासे के बाद बस्ती पुलिस के दरोगा समेत 12 सस्पेंड

0
बाराबंकी: एसपी के सामने पुलिसकर्मियों से नहीं खुली पिस्टल, साबित हुए फिसड्डी
बाराबंकी: एसपी के सामने पुलिसकर्मियों से नहीं खुली पिस्टल, साबित हुए फिसड्डी
गोरखपुर. जनपद में पुलिस की वर्दी में दो प्रतिष्ठित व्यापारियों से लाखों लूटने की घटना का पर्दाफाश हो गया है। खुलासे से सबके होश उड़ गए हैं। व्यापारियों को लूटने वाले लोग नकली नहीं बल्कि असली पुलिसकर्मी निकले हैं। इस मामले में दरोगा संग 12 पुलिसकर्मी सस्पेंड हुए हैं। आपको बता दें कि
जनपद के  कैंट थाना क्षेत्र में रेलवे स्टेशन से महराजगंज के दो स्वर्ण व्यापारियों का पहले अपहरण किया गया।इसके बाद उनसे 30 लाख रुपये लूट लिए गए। मामले का खुलासा हुआ तो बस्ती में तैनात दरोगा व सिपाहियोें की भूमिका सामने आई। इस प्रकरण में गोरखपुर पुलिस ने 24 घंटे में घटना का अनावरण किया।  आरोपी दरोगा धर्मेंद्र यादव व दो सिपाहियों सहित 6 आरोपियों को अरेस्ट किया जा चुका है। लूट के 19 लाख रुपये और 11 लाख की ज्वेलरी भी बरामद हुई है।
इस मामले में दरोगा धर्मेंद्र ही मास्टरमाइंड निकला है। पुलिस पूछताछ में धर्मेंद्र ने कस्टम अफसर बनकर शाहपुर में एक व्यापारी से चार किलोग्राम चांदी लूटने की घटना भी कबूली है।
 बस्ती के आईजी राजेश राय ने बताया कि व्यापारियों से लूट के आरोपी पुरानी बस्ती थाने में तैनात दरोगा धर्मेंद्र यादव संग 12 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है।  विभागीय कार्रवाई भी प्रचलित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here